Home Surah Surah Bayyinah Lam Yakun In Hindi | | सूरह लम यकून तर्जुमा...

Surah Bayyinah Lam Yakun In Hindi | | सूरह लम यकून तर्जुमा के साथ

0
538
Surah Bayyinah
Surah Bayyinah

Surah Bayyinah In hindi with tarjuma

बिस्मिल्लाह-हिरहमा-निर्रहीम

अस्सलामु अलैकुम वरहमतुल्लाह वबरकाताहु दोस्तों आज हम सूरह लम यकून Surah Bayyinah Lam Yakun के तर्जुमा के बारे में जानेंगे और समझेंगे यक़ीनन इस तर्जुमे को आपको भी समझना चाहिए| आप यहाँ से Ayatul kursi in hindi में पढ़ सकते है |

 

1. लम यकुनिल लज़ीना कफरू मिन अहलिल किताबि वल मुशरिकीना मुन्फक कीना हत्ता तअ’ति यहुमुल बय्यिनह

मुशरिकीन और अहले किताब में जो काफ़िर थे वो उस वक़्त तक बाज़ आने वाले नहीं थे जब तक उन के पास कोई खुली दलील न आ जाती|

2. रसूलुम मिनल लाहि यत्लू सुहुफ़म मुतह हरह

अल्लाह बारक़ व तआला की तरफ़ से एक ऐसा रसूल जो पाक सहीफे पढ़ कर सुनाये|

3. फ़ीहा कुतुबुन क़य्यिमह

जिस में दुरुस्त अहकाम लिखे हुए हों

4. वमा तफर रक़ल लज़ीना ऊतुल किताबा इल्ला मिम ब’अदि मा जा अत्हुमुल बय्यिनह

और अहले किताब ने अलग रास्ता उसके बाद ही इख्तियार किया जब उनके पास खुली दलील आ गयी|

5. वमा उमिरू इल्ला लियअ’बुदुल लाहा मुखलिसीना लहुद दीन हुनाफ़ा अ वयुक़ीमुस सलाता व युअ’तुज़ ज़काता व ज़ालिका दीनुल क़य्यिमह

जब कि उनको सिर्फ ये हुक्म दिया गया था कि वो अल्लाह की बंदगी दीन को उसके लिए खालिस करके करें और नमाज़ क़ायम करें और ज़कात अदा करें और ठीक मिल्लत का यही दीन है

6. इन्नल लज़ीना कफरू मिन अहलिल किताबि वल मुशरिकीना फ़ी नारि जहन्नमा खालिदीना फ़ीहा उलाइका हुम शररुल बरिय्यह

अहले किताब और मुशरिकीन में से जो ईमान नहीं लाये है, वो हमेशा हमेशा जहन्नुम की आग में जलते रहेंगे यही लोग सब से बदतर मख्लूक़ माने जायेंगे

7. इन्नल लज़ीना आमनू अमिलुस सालिहाति उलाइका हुम खैरुल बरिय्यह

बेशक जो लोग ईमान लाये और उन्होंने नेक काम नेक अमल किये, वही सब से बेहतर मख्लूक़ हैं|

 

Surah lam yakun in hindi

8. जज़ाउहुम इन्दा रब्बिहिम जन्नातु अदनिन तजरी मिन तहतिहल अन्हारु खालिदीना फ़ीहा अबदा रज़ियल लाहू अन्हुम वरजू अन्ह ज़ालिका लिमन खशिया रब्बह

Surah Bayyinah : उन का बदला उनके रब के पास है, ऐसी सदा बहार जन्नतें जिनके नीचे सहद की नहरें बह रही हैं, वो हमेशा उसी में रहेंगे, अल्लाह तआला उन से बहुत खुश हुवा और वो अल्लाह तआला से खुश रहेंगे, ये उस इंसान के लिए है जो अपने परवरदिगार से हमेशा डरता है और हमेशा डरता रहेगा |

Soorah Bayyinah Lam Yakun Ki Tafseer

1 से 4 आयतों में हुज़ूर (S.A.W) को पैग़म्बर बना कर भेजने की वजह बताई जा गयी है और वो ये कि जाहिलियत के ज़माने में जो लोग काफ़िर थे चाहे वो अहले किताब में से हों या बुत परस्तों में से, वो उस वक़्त तक अपने कुफ्र से बाज़ नहीं आ सकते थे जब तक नबी (S.A.W) की शक्ल में एक रौशन दलील उनके सामने न आ जाती, तो जिन लोगों ने नबी स.अ. की बातों पर खुले दिल से गौर किया वो वाक़ई अपने कुफ्र से तौबा करके ईमान ले आये लेकिन जिन की ताबियत में ज़िद और हटधर्मी थी वो इस नेअमत से महरूम रहे और हमेशा रहेंगे|

सुहुफ़ का मतलब : क़ुरआन मजीद है

मुतहहरह का मतलब : यानि जो शक शुबहा और ग़लत बयानी से पाक हो यानि एक अल्लाह का रसूल जो पाक सहीफे पढ़ कर सुनाये |

5 नंबर आयत : नमाज़ कायम करें और ज़कात दें यही अस्ल दीन है जो हमेशा से चला आ रहा है और इसी बात की तालीम मुहम्मद (S.A.W) भी देते हैं ये बात इस हकीकत को समझाने के लिए काफ़ी थी कि आप (S.A.W) का नबी होना बरहक़ है |

6 नंबर आयत : यक़ीनन अहले किताब और और मुशरिकीन में से जिन्होंने अपना कुफ्र अपना लिया वो दोजख की आग में जलाये जायेंगे जहाँ वो हमेशा जलते रहेंगे, और ये लोग सारी मख्लूक़ में सब से बुरे क़रार दिए गए हैं |

7 नंबर आयत : और नेक अमल करने वालों को सब से बेहतर मख्लूक़ बताया गया, इस से पता चला कि इंसान को अपनी अस्ल के एतबार से फरिश्तों पर भी फ़ज़ीलत है |

8 नंबर आयत : अल्लाह तआला बन्दों के आमाल से खुश होंगे और बन्दे अल्लाह तआला के अता किये गए अजरो सवाब से खुश होंगे |

सूरह लम यकून इन हिंदी विथ तर्जुमा

Must Read:-

1. Namaz ka Tarika – Namaz ka Tarika हिंदी में

2. Dua E Qunoot In Hindi

3. Fatiha ka tarika in Hindi यहाँ से सीखें

4. Safar Ki Dua in Hindi & Urdu तर्जुमा के साथ

5. Ghusl ka tarika in Hindi | नहाने का इस्लामिक तरीका हिंदी में

6. Qabr Ke Azab Se Bachne Ke Tareeqe

7. Success Aur Kaamayabi Ki Dua In Hindi |

दोस्तों अगर ये Information आपको अच्छा लगे तो इस Information को Share जरूर करें अल्लाह तआला आपका और हमारा हिफाजत फरमाए (अल्लाह हाफ़िज़)

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here