Home Islamic Dua DUA E NOOR IN HINDI | दुआ ए नूर हिंदी लेटर में

DUA E NOOR IN HINDI | दुआ ए नूर हिंदी लेटर में

DUA E NOOR IN HINDI दुआ ए नूर हिंदी लेटर में  अस्सलामु अलैकुम वरहमतुल्लाह वबरकाताहु दुआ ए नूर हर मुश्किल वक़्त में पढ़े जाने वाला दुआ है हमारे प्यारे नबी हुजूर (S.A.W) के द्वारा बताये जाने वाली ये एक नायाब दुआवों में से एक है| Dua e qunoot पढ़ने के लिए इस इस पर Click करें| For information related to government jobs Click This Website Sarkarijobseva.com

 

 

Dua E Noor In Hindi

बिस्मिल्लाह-हिरहमा-निर्रहीम

अल्लाहूम्म या नुरू त-नव्वरु-त बीननुरि वणनुरि फी नूरी-नूरि क या नुरू+अल्लाहूम्म बारिक अलैना वद-फा अन्ना बला-अना या रउफु लबबै-क व अकरिम लबबै-क अय्यंबु-अ स मन फील कुबुरि+अल्लाहुम्मर जुकना खए-रददीनि म-अलु क़ुरबी वल इख़्लासी वलुईसृतिका-मति बिलुतफि क+व-सल्लल्लाहू अला ख़ैरि खलकीही मु-हम्मदिन व आलिहि व असहाबिहि अजु-मईन व-सल्ल-म तसली-मन कसी-रन कसी-रनू बी रह-मति क या अर-ह-मर्राहीमीन

 

आप सभी नाजरीन से हमारा गुज़जरिस है की आप हिंदी के साथ साथ अरबी में जो Dua E noor दिया गया है उसे भी जरूर पढ़े वो इस लिए की हिंदी लिखने में कुछ जेर जबर नुख्ता के छूट जाने क ज्यादा चांस होते है तो आप लोग अरबी में जी image के जरिये हमने लगा दिया है उसे भी जरूर पढ़ें|

 

दुआ ए नूर हिंदी language में

एक दिन अल्लाह के सन्देष्टा SAW जब मदीना शरीफ की मस्जिद में तसरीफ रखते है तभी वहां हजरत जिब्रील (A.S) आएं और उनसे गुजारिस किये ए अल्लाह के रसूल (S.A.W) अल्लाह पाक आपको सलाम कहा है और ये तोहफा Dua e noor आपके उम्मत के लिए तोहफा भेजे है और फरमाए की यह दुआ आगे की उम्मतों पर ना भेजी थी मगर आपकी उम्मत के लिए बख्शीस के सबब करके भेजता हूँ|

और अल्लाह ने फ़रमाया की जो इस दुआ को पढ़ने वाला और इस दुआ को अपने पास रखने वाला हमेशा दुनिया में सुख चैन शांति के साथ गुजर बसर करेगा और वो ईमान के सलामती के साथ दुनिया से रुखसत करेगा मरेगा और क़यामत के दिन उसका मुंह (Face चौदहवीं तारीख के चाँद के तरह नूरानी होगा वह कभी बीमार ना होगा हमेशा तंदुरुस्त रहेगा और हमेशा सुख और शांति से रहेगा अगर वो किसी भी जंग में जायगा तो हमेशा फ़तेह हासिल करेगा अगर किसी सफर के लिए निकलेगा तो अपनी मंजिल पर सही सलामत पहुंचेगा|

दुआ ए नूर हिंदी भाषा में

इस दुआ को पढ़ने और हमेशा अपने साथ रखने पर उस बन्दे पर अल्लाह तआला की रहमत की नजर हमेशा उस बन्दे पर रहेगा|

इसे भी जरूर पढ़ें

 

 

दोस्तों अगर आपको ये इनफार्मेशन अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें और अगर आपको हमसे कोई इस्लामिक रिलेटेड सवाल पूछ न हो तो ईमेल या कमेंट करें |

 

Exit mobile version