Home Surah Ayatul Kursi, In Hindi (2021) Duanamaz

Ayatul Kursi, In Hindi (2021) Duanamaz

ayatul kursi
ayatul kursi

Ayatul Kursi – आयतल कुर्सी हिंदी इंग्लिश और अरबिक में

बिस्मिल्लाह हिर्रहमा निर्रहीम

Ayatul Kursi, In Hindi आयतुल कुर्सी हिंदी के आसान भासा में : अस्सलामु अलैकुम वरहमतुल्लाह वबरकाताहु  आज हम सभी मुसलमान भाइयों और बहनो के लिए Ayatul kursi, In Hindi में लेकर आएं है जो की हर मुसलमान को पढ़ना और हमेशा याद रखना बहुत जरुरी है किया आपलोग भी हिंदी में आयतुल कुर्सी को पढ़ना चाहते है हमने निचे Namaz Ka Tarika In Hindi का लिंक भी दे दिया ताकि आपको नमाज़ के बारे में भी मालूमात हो सके |

किया आपलोग आयतुल कुर्सी गूगल पर सर्च करते है और आपको नहीं मिलता तो फॉर आज आपकी आयतुल कुर्सी की तलाश ख़त्म हुवा क्यू की हम आज सिर्फ और सिर्फ आपके लिए ही यह पोस्ट ले कर आएं है | आपलोगों को आयतुल कुर्सी की अहमियत के बारे में तो पता ही होगा हमें उम्मीद है की आयतुल कुर्सी की अहमियत के बारे में हर मुसलमान बाखूबी जानते होंगे| 

आयतुल कुर्शी को एक क़ुरआन शरीफ का चोथाई भी कहा जाता है जो भी इंसान हर रोज फजर के नमाज़ के बाद आयतुल कुर्सी को पढता है उस इंसान के लिए जन्नत के दरवाजे हमेसा के लिए खोल दिए जाते है|

एक हदीसे पाक में कहा गया है की जो इंसान हर रोज फजर के नमाज़ के बाद Ayatul Kursi पढता है तो उस इंसान को जन्नत में जाने से कोई भी चीज नहीं रोक पाएगा आयतुल कुर्सी सबसे ज्यादा अजमत वाली आयतों में से एक आयत है जो हर मुसलमान को याद होना चाहिए|

निचे के लेख में हमने आपके बेहतर समझ में आने के लिए आयतुल कुर्सी का एक फोटो भी लगा दिया है जिसे देख कर आप अच्छे से समझ और याद कर सकें |

Ayatul Kursi
Ayatul Kursi

आयतुल कुर्सी के और तर्जुमा हिंदी भाषा में

अल्लाहु ला इला-ह इल्लल्लाहु-वल हय्युल क़य्यूमु ला तअ् खुज़ुहू सि-न तुंव-व ला नौम लहू मा फि़स्समावातिं व मा फ़िल अर्ज़ि मन ज़ल्लज़ी यश् फ़उ अिन-द-हू इल्ला बिइज़्निही यअ्लमु मा बै-न एह्दिह्यम व मा ख़ल-फ़ हुम व ला युहीतू-न बि शैइम मिन अिल्मि ही इल्ला बि-मा शा-अ व सि-अ कुर्सि-युहूस्समावाति वल अर्ज़ि व ला यऊदु हू हिफ़्जुहुमा व हुवल अ़लीयुल अज़ीम :

Ayat al kursi in english – आयत अल कुर्सी इंग्लिश में 

Allahu laaa ilaha illaa huwal
Haiyul qaiyoom lata khuzuhu
sinatuw wala naum lahu ma fis
samawati wama fil ard
man zal lazi yashfau indahu illa bi iznih ya lamu maa baina
aydeehim wa maa khalfahum wa laa yuheetoona bishai im min
ilmihee illaa bimaa shaaa wasi’a
khursiyyushus samaawaati wal arda wa laa ya’ooduhoo
hifzuhumaa wa huwal aliyyul azeem

आयत अल कुर्सी तर्जुमा हिंदी में

अल्लाह के सिवा कोई इबादत के लायक नहीं जिन्दा है जिसको मौत नहीं आ सकती,न उसको ऊंघ दबा सकता है और न नींद, उसी का है जो कुछ आसमान और जमीन में है, ऐसा कौन है जो उसके पास जा कर किसी की सिफारिस करे उसकी इज़ाज़त के बगैर, वो इंसान के आगे पीछे के तमाम हालात को जनता है,

इंसान और तमाम मख्लूकात अल्लाह के मालूमात का इहाता नहीं कर सकते मगर जितना अल्लाह चाहे, उसकी कुर्सी इतनी लम्बी है की उसने सब आसमानो और जमीनों अंदर लिए हुवे है, और अल्लाह ताला को इन दोनों आसमानो और जमीन की हिफाज़त भारी नहीं लगती

ayatul kursi ke fazail in hindi
हुज़ूर नबी करीम सल्ललहु अलैहि वसल्लम ने फरमाया के जो लोई सोते वक्त अयातुल कुर्सी पढता है उसके लिए अल्लाह ताआला हिफाजत के लिए दो फरिस्ते मुकर्रर कर देता है जो उसकी सुबह तक हिफाजत फरमाता है बुजुर्ग दिन ने भी यातुल कुर्सी को अपने खवास बरकात और असरात के एतबार से निहायत अफजल और असरफ करार दिया है

इमाम जजरी रहमतुल्लाह अलैह फरमाते है के मेरे नजदीक अल्लाहु ला इलाहा इल्ला होवाल हैयुल कयूम इसमें हाजिर है एक शख्स ने हुज़ूर नबी करीम सल्लाहु अलैहि वसल्लम से अर्ज किया की हुज़ूर हमारे घर में खैरो बरकत नहीं है आप सल्लाहु अलैहि वसल्लम ने फ़रमाया के तुम अयातुल कुर्सी क्यो नहीं पढ़ते और ओ शख्स वैसा ही किया और मालामाल हो गया और भी फजीलत है |

अगर आपको इसके बारे में और जानना हैं तो Deenibaatein.com Link पर Click करें

Must Read:-

  1. Fateha Karne ka tarika in Hindi | फातेहा करने का तरीका…

  2. Ramzan Ki Fazilat In Hindi | रमज़ान की फ़ज़ीलत इन हिंदी

  3. Ramzan Ki Fazilat In Hindi | रमज़ान की फ़ज़ीलत इन हिंदी

  4. Jawal Ka Waqt Kya Hai | जवाल के वक़्त इबादत कियों…

  5. Darood E Jumma In Hindi | जूमआ के नमाज़ के बाद…

  6. Tayammum Karne Ka Tarika | तयम्मुम करने का तरीका हिंदी में

  7. Khana Khane Ki Sunnatein Aur Adaab | खाना खाने की सुन्नतें…

नाजरीन कैसी लगी आपको हमारी ये इनफार्मेशन आप हमें जरूर बताएं और Plz इसे शेयर करना न भूलें अल्लाह हम तमाम मुसमानो की हिफाजत फ़रमाँ

3 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here