Akhri budh ki namaz or dua hindi mein

दोस्तों आज हम आप के लिए लेकर आये है Akhri budh ki namaz or दुआ जिससे आप को मालूम होगा की आखरी बुध को नमाज़ कैसे पढ़ते है और इस में सफर के आखरी बुध जिससे चार शम्बा भी कहते हैं सफर के महीने के आखरी बुध में नफिल की नमाज़ का तरीका है

अल्लाह इस नमाज़ के दुआ को क़ुबूल अत फरमाएगा अल्लाह पाक तमाम बालाओ मुसीबतों से महफूज़ रखेगा Akhri budh ki namaz और dua के बाद जोहर का 2 रकअत नमाज़ पढ़ले हेर रकअत में सूरा फातिया पढ़े उसके बाद सूरा िखलाश 3 -3 बार पढ़े सलाम के बाद सूरा िनशिरः 80 बार पढ़े फिर सूरा इखलाश 80 बार पढ़े  अल्लाह िसनमाज़ को जरूर क़ुबूल करेगा और आपकी उम्र में बरकतें करेगा आखरी बुध की नमाज़ बहुत जरूरी है जो इस नमाज़ को पढ़ेगा अल्लाह उससे रहमतो से भर देगा

Akhri budh ki namaz

 

Akhri budh ki namaz or dua

2.Akhri budh ki namaz और dua रोज़ी में बरकत के लिए बहुत मुफीद दिन की नफिल की नमाज़ आखरी बुध की नमाज़ और दुआ से पहले चार रकअत नमाज़ पढ़े और हर रकअत में सौराह फातिया पढ़े दो सलाम फेरे उसके बाद सूरा कौसर 70 बार पढ़े फिर सूरा िखलाश 5 -5 बार पढ़े
ये नमाज़ रोज़ी में बरकत के लिए बहुत मुफीद है

Akhri budh ki namaz or dua

Bakraeid ke baare ma janne ke liye yahe click kare

Akhri budh ki wazifa or uske amal

Akhri budh ki namaz और dua के दिन अगर आप क़ुरआन शरीफ के चारो सूरतें पड़लीजिये और अमल करेंगे  तोह ये आप के लिए बहुत लाखो रहमतो के बराबर होगा इस अमल को अगर आप करेंगे तोह आपकी उम्र माबरकतें होगी अगर आप जॉब के तलाश में हैं या आपको जॉब नहीं मिल रहाहै तो इस अमल को करने केबाद आपकी साड़ी परेशानिया दूर होजायेगी आमिर बनना है तो ये अमल अपनाना होगा क़ुरआन शरीफ की चारो सुरते पढ़कर जो दुआ मांगेगे वो क़ुबूल हो जायेगी

Akhri budh ki namaz or dua

Salatul tasbeeh namaz ka tarike janne ke liye yaha click kare

 Namaz wale din ki dua

अल्लाहुम्मा सर्रिफ़ अन्नी सू-अ हा-ज़ल यौमि वआ-सम्नी मिन् सूइही व-नज्जिनी अम्मा असा-ब फीहि मिन् बहूरि साआतिही वकुरुबातिही बिफ़ज़्लि-क या दाफि-अशरूरि या मालि- कन्नुशूरि या अऱ-ह-मर्राहिमीन वसल्लल्लाहु अला मुहम्मदिव्व आलिहिल अम्जादि व बारिक़ व-सल्लिम्

ये दवा पढ़ने के बाद आपकी परेशानिया दूर हो जाएगी और आप जो दुआ मांगेगे पूरा हो जायेगा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here