Azan Ki Ahmiyat Wa Fazilat In Hindi

Azan Ki Ahmiyat Fazilat In Hindi अज़ान की फ़ज़ीलत Azan Ki Fazilat In Hindi : अस्सलामु अलैकुम वरहमतुल्लाह वबरकाताहु प्यारे दोस्तों दिने इस्लाम में अज़ान की बहुत ज्यादा फ़ज़ीलत है अज़ान चाहे हुवे दिन में से है अज़ान का अहतराम अज़ान से मोहब्बत हर एक मोमिन का इमानि तकाजा है अज़ान देने की फ़ज़ीलत हजरत मोवाबिआ रजि: अल्लाहो तआला अन्हा से मरवी हुजूर नबी ए अकरम (S.A.W) की इस हदीसे मुबारक से साबित है हमने यहाँ Azan ke Baad ki Dua in Hindi को भी दे दिया है आप इसे भी जरू याद कर लें|

Azan Ki ahniyat

Azan Ki Ahmiyat Fazilat In Hindi

बिस्मिल्लाह हिर्रहमा निर्रहीम

अज़ान की अहमियत व फजीलत क़यामत के दिन जब मोवज्जिन उठेंगे तो उनकी गर्दन सबसे बुलंद होंगी इसका मतलब ये है की जब मैदाने हश्र में तमाम लोग गर्मी से पसीने में सारा बोर होंगे तो उस वक़्त मोवज्जिनो को किसी तरह की कोई परिशानी नहीं होंगी इसका मतलब यी भी है की मोवज्जिन की अजान सुन कर लोग मस्जिद में नमाज़ पढ़ने जाते है तो नमाज़ी ताबे और मोवज्जिन मतबू हुवा मतबू चु के सरदार होता है इस लिए क़यामत के दिन उसकी गर्दन बुलंद व बाला रहेंगे ताकि उसका सर सबसे नुमाया नजर आए प्यारे दोस्तों जहाँ अज़ान देने की इतनी फ़ज़ीलत है वही वहीँ अज़ान का अहतराम न करने की सख्त तरीन व्यीद सजाएँ भी है|

इन मेसे कुछ सजाये तो दुनिया में ही है आज अज़ान का अहतराम करने पर और अज़ान को सुन कर अहतराम न करने पर इसका अजाब क्या है हजरत सैयद एना रजि: अल्लाहो तआला अन्हा ने फ़रमाया है एक सख्स उनके पास आकर अपनी परिशानियों का जिक्र करने लगा तो सैयद एना अली रजि: अल्लाहो तआला अन्हा ने क्या फ़रमाया और इसी तरह कोई औरत अजान सुन कर भी बेपर्दा रहे उस पर और उसके घर पर क्या अजाब नाजिल होगा इसके बारे इसी टॉपिक पर हम आज बात करेंगे|

azan ki ahmiyat

 

अज़ान की अहमियत व फजीलत

आप सभी से हमारा request है गुजारिस है की इस Post को पूरा पढ़ें और इस पर अमल करें हमारे प्यारे दोस्तों अज़ान देने वाले को तो सवाब मिलेगा ही पर जो सख्स अज़ान सुनते ही अज़ान के अहमियत में सारे कामो को छोड़ कर सिर्फ अज़ान सुनने पर ध्यान लगता है हजरत उमर रजि: तआला से मरवी है के हुजूर अक़दस SAW ने इरसाद फ़रमाया जब

  • मोवज्जिन अल्लाहु अकबर अल्लाहु अकबर कहे तो तम मेसे हर सख्स अल्लाहु अकबर अल्लाहु अकबर कहें|
  • जब मोवज्जिन अशदु अल्लाह इलाहा कहे तो हम मेसे हर सख्स अशदु अल्लाह इलाहा कहे|
  • जब मोवज्जिन अशदु अन्ना मुहम्मद अर्रसूल्लाह कहे तो आप भी उसे दोहराये यानि कहें अशदु अन्ना मुहम्मद अर्रसूल्लाह कहे
  • फिर जब मोवज्जिन हैया लससला कहे तो आप मेसे हर शख्स लाहौल वला कूवत कहें|
  • जब मोवज्जिन हैया ललफाला कहे तो आप मेसे हर शख्स लाहौल वला कूवत कहें|
  • मोवज्जिन अल्लाहु अकबर अल्लाहु अकबर कहे तो तम मेसे हर सख्स अल्लाहु अकबर अल्लाहु अकबर कहें|
  • फिर जब मोवज्जिन ला इलाहा इल्ललाह कहे तो आप भी ला इलाहा इल्ललाह कहे|

अज़ान सुनने की फजाइल हिंदी में

बस जो सख्स अज़ान के इन कलमात को सिद्क़े दिल से पढ़े वो यक़ीनन जन्नत का हकदार होगा प्यारे दोस्तों जहाँ अज़ान सुनकर इसकी जवाब देने पर इतना फ़ज़ीलत है वही अज़ान सुन कर अहतराम न करने पर सख्त तरीन वयेदे भी है जो इंसान अज़ान सुन कर भी अपने काम काज में बिजी व्यस्त रहता है अज़ान के आवाज़ को इग्नोर कर देता है उस सख्स के काम काज से अल्लाह पाक बरकत चीन लेता है इसी तरह हमारी जो माँ बहने अज़ान की आवाज़ को सुन कर भी अपने सर पर दुपट्टा नहीं ओढ़ती है उन पर अल्लाह तआला की लानत बरसती रहती है और जिस पर अल्ल्ह की लानत बरसे तो भला उस घर में कैसे रहमत व बरकत आ सकती है|

Azan Ki Ahmiyat हमारा आप सभी माँ बहनो से गुजारिस है की आप सभी अज़ान की अहमियत करें अज़ान सुन कर उन पर कलामात पढ़ें इन्शाह अल्लाह आपको सुकून व् खैरो बरकत में कमी नहीं होगी क्यू की अज़ान सुनने में भी बहुत फ़ज़ीलत है तो आप अज़ान को जरूर सुने |

Must Read:-

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here